Monday, March 1, 2021
Home लाइफस्टाइल फैमिली raveena tandon home remedy: बच्‍चों की सर्दी-जुकाम दूर करने के लिए, इस...

raveena tandon home remedy: बच्‍चों की सर्दी-जुकाम दूर करने के लिए, इस देसी नुस्‍खे पर भरोसा करती हैं रवीना टंडन – raveena tandon home remedy for cold cough in hindi

​रवीना टंडन का देसी नुस्‍खा

जब रवीना टंडन के बच्‍चों को सर्दी, खांसी और जुकाम होता है, तब वो कुछ जड़ी बूटियों से काढ़ा बनाकर उन्‍हें पिलाती हैं।

रवीना तुलसी की पत्तियों, काली मिर्च, हल्‍दी और अदरक को पानी में उबालकर काढ़ा बनाती हैं। इसमें मिठास लाने के लिए शहद भी मिलाया जा सकता है। इस काढ़े के सेवन को लेकर रवीना कहती हैं कि बच्‍चों को गुनगुना ही काढ़ा पिलाना चाहिए, तभी ज्‍यादा असर होगा।

यह भी पढ़ें : बच्‍चों को खांसी जुकाम हो तो घर पर बनाएं काढा और करें इलाज

​बच्‍चों के लिए काढ़ा पीने के फायदे

आप भी रवीना टंडन की तरह जड़ी बूटियों से काढ़ा बना सकती हैं। यहां हम आपको बच्‍चों के लिए काढ़ा पीने के कुछ फायदों के बारे में बता रहे हैं।

काढ़े में एंटीवायरल गुण होते हैं और ये खांसी-जुकाम पर भी असर करता है। तुलसी की पत्तियां शरीर से म्‍यूकस को कम करने में मदद करती हैं।

काढ़ा पीने से इम्‍यूनिटी भी बढ़ती है और इंफेक्‍शन से बचाव होता है।

जड़ी बूटियों से बने काढ़े में एंटी-इंफ्लामेट्री और एंटीसेप्टिक गुण होते हैं जो गले को आराम देते हैं और खांसी को रोकते हैं।

काढ़ा खांसी, जुकाम, फ्लू और बुखार को ठीक करने में मदद करता है। काढ़ा इम्‍य‍ूनिटी को बढ़ाता है और शरीर में एंटीऑक्‍सीडेंट की तरह काम करता है।

यह भी पढ़ें : अजवायन के पत्‍ते से घर पर ऐसे बनाएं काढा

​काढ़ा पीने से क्या फायदा है

काढ़े में जिन जड़ी बूटियों का इस्‍तेमाल किया जाता है, वे लिवर और किडनी को स्‍वस्‍थ रखने में मदद करती हैं। किडनी और लिवर के ठीक से काम ना कर पाने पर पीलिया, भूख में कमी और अपच की समस्‍या हो सकती है। इसका असर बच्‍चे के विकास पर भी पड़ता है।

काढ़े में ठंडक देने की क्षमता होती है जिससे पेट और पाचन से जुड़ी कई समस्‍याओं जैसे कि गैस्‍ट्राइटिस, हाइपरएसिडिटी और सिरदर्द, मतली आदि को ठीक करने में मदद मिल सकती है।

यह भी पढ़ें : इम्यूनिटी पर भारी न पड़े रोज काढ़ा पीना, जानें कितना और कैसे पीना सही

​कैसी मां हैं रवीना टंडन

रवीना टंडन भी आम मांओं की तरह अपने बच्‍चों का ख्‍याल रखती हैं। रवीना बताती हैं कि वो अपने बच्‍चों की हर छोटी से छोटी बात पर गौर करती हैं। वो बच्‍चों से उनके स्‍कूल में बिताए दिन के बारे में पूछती हैं, उनकी स्‍कूल ड्रेस तैयार करती हैं और होमवर्क में भी मदद करती हैं।

ये सुनकर तो आपको भी लग रहा होगा कि रवीना कोई सिलेब्रिटी मॉम नहीं हैं बल्कि एक नॉर्मल मदर हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Kisan Mahapanchayat In Rudrapur: Kisan Leader Rakesh Tikait Will Address Mahapanchayat – उत्तराखंडः रुद्रपुर में आज किसान महापंचायत, भाकियू नेता राकेश टिकैत करेंगे संबोधित

राकेश टिकैत - फोटो : एएनआई फाइल फोटो पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर कहीं भी, कभी भी।*Yearly subscription for just ₹299 Limited Period Offer. HURRY UP! ख़बर...

Keep Vigil On The Mp Border, Check The Incoming – Asp – एमपी बॉर्डर पर सतर्कता बनाए रखें, आनेजाने वालों को चेक करें-एएसपी

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर कहीं भी, कभी भी।*Yearly subscription for just ₹299 Limited Period Offer. HURRY UP! ख़बर सुनें ख़बर सुनें कोंच। अपर पुलिस अधीक्षक...

Up Board – दूर के केंद्र मानक अनुसार नजदीक हुए

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर कहीं भी, कभी भी।*Yearly subscription for just ₹299 Limited Period Offer. HURRY UP! ख़बर सुनें ख़बर सुनें गाजीपुर। आपत्तियों का निपटरा...

Second Phase Of Corona Vaccination Started In Haryana – हरियाणा में कोरोना वैक्सीनेशन का दूसरा चरण शुरू, स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज नहीं लगवाएंगे टीका

हरियाणा में कोरोना वैक्सीनेशन का दूसरा चरण शुरू। - फोटो : प्रतीकात्मक तस्वीर पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर कहीं भी, कभी भी।*Yearly subscription for just ₹299...

Recent Comments