Monday, March 1, 2021
Home लाइफस्टाइल फैमिली alsi ke laddu kaise bante hain: डिलीवरी के बाद 40 दिन तक...

alsi ke laddu kaise bante hain: डिलीवरी के बाद 40 दिन तक खाएं अलसी के लड्डू, जानें बनाने का तरीका – flax seed ladoo with jaggery benefits after delivery in hindi

डिलीवरी के बाद महिलाओं के शरीर में कई तरह के बदलाव आते हैं और शरीर बहुत कमजोर भी हो जाता है। इसके साथ ही नई मांओं को बढ़ा हुआ वजन भी परेशान करता है। कमजोरी और वेट लॉस, इन दोनों परेशानियों को अलसी के लड्डू खाकर ठीक किया जा सकता है। आइए जानते हैं डिलीवरी के बाद अलसी के लड्डू खाने के फायदों और इसे बनाने के तरीके के बारे में।

​अलसी के लड्डू कैसे बनाएं

इसके लिए आपको आधा किलो अलसी, एक पाव गुड़, 125 ग्राम गोंद, एक सूखा नारियल, एक कप मखाने, आधी कटोरी काूज, बादाम, पिस्‍ता, किशमिश, चिरौंजी और 7 से 8 छुहारे, 80 से 100 ग्राम देसी घी की जरूरत होगी।

​अलसी के लड्डू बनाने की विधि

अलसी और सूखे मेवों के साथ लड्डू बनाने का तरीका इस प्रकार है :

  • अब एक कढ़ाई लें और उसे गैस पर गर्म होने के लिए रख दें। कढ़ाई में अलसी डालकर उसे धीमी आंच पर अच्‍छी तरह से भून लें। इसमें 10 मिनट से ज्‍यादा का समय लगेगा।
  • अलसी भूनने के बाद उसे कढ़ाई में से निकाल लें और कढ़ाई में घी डालें। इसमें मखाने डालकर उसे भून लें। फिर इसी कढ़ाई में घी में गोंद को भूनना है।
  • गोंद और मखाने को एक साथ पीस लें और भुने हुए अलसी के बीजों को भी पीस लें। फिर कढ़ाई में गुड़ डालकर एक से दो चम्‍मच पानी डालें और गुड़ को पिघलने दें।
  • एक बड़ी थाली लें और उसमें पिसी हुई अलसी डालें। फिर इसमें गोंद और मखाने का पाउडर डालें।
  • किशमिश के अलावा बाकी सभी ड्राई फ्रूट्स को पीसकर इस मिश्रण में डाल दें।
  • अब किशमिश डालकर सभी चीजों को मिक्‍स करें। फिर गर्म पिघला हुआ गुड़ इसमें डालें और तुरंत मिक्‍स कर दें।
  • इसके बाद घी डालकर मिक्‍स करें। इसके बाद इसके लड्डू तैयार कर लें।

यह भी पढ़ें : इम्युनिटी बूस्टर हैं मेथी से बना ये लड्डू, रोजाना एक के सेवन से इन समस्याओं से मिलेगा छुटकारा

​डिलीवरी के बाद अलसी खाने के फायदे

अगर आपकी अभी डिलीवरी हुई है तो आप अलसी के ये लड्डू जरूर बनाकर खाएं। इसके लाभ हैं :

  • अलसी में कई जरूरी पोषक तत्‍व जैसे कि मैग्‍नीशियम, कैल्‍शियम, पोटैशियम, फास्‍फोरस, जिंक, कॉपर और सेलेनियम होता है जिससे डिलीवरी के बाद शरीर को ताकत मिलती है।
  • अलसी के बीजों में अल्‍फा लिनोलिक एसिड होता है जो ब्रेस्‍ट मिल्‍क को बढ़ाता है।
  • यह फाइबर से भरपूर होते हैं जिससे डिलीवरी के बाद कब्‍ज की शिकायत नहीं होती और पेट साफ रहता है। इस तरह अलसी वजन घटाने में भी मदद करती है।
  • अलसी के बीज एंटीऑक्‍सीडेंट की तरह काम करते हैं और फ्री रेडिकल्‍स की वजह से होने वाले ऑक्‍सीडेटिव डैमेज से बचाते हैं।

यह भी पढ़ें : डिलीवरी के बाद ताकत के लिए जापे में महिलाएं जरूर खाएं गुड़ के लड्डू, जानिए बनाने का तरीका

​डिलीवरी के बाद अलसी के लड्डू के फायदे

अलसी के लड्डू आप डिलीवरी के बाद रोज खा सकती हैं। रोज सुबह एक गिलास दूध के साथ एक लड्डू खा सकती हैं। आप चाहें तो स्‍नैक्‍स के रूप में भी ये लड्डू खाए जा सकते हैं।

प्रसव के बाद शरीर में बहुत कमजोरी आ जाती है और कई पोषक तत्‍वों की कमी भी हो जाती है। कमजोरी और पोषण की कमी को दूर करने के लिए अलसी के लड्डू खाए जाते हैं। इससे नई मांओं को प्रेग्‍नेंसी वेट घटाने में भी बहुत मदद मिलती है। अगर आप डिलीवरी के बाद वजन घटाने की सोच रही हैं, तो घर पर अलसी के लड्डू बनाकर, उन्‍हें अपनी डाइट में जरूर शामिल करें।

यह भी पढ़ें : नारियल से तैयार करें जापे के लड्डू, डिलीवरी से पहले और बाद में कमर दर्द जैसी कई परेशानियों से मिलेगा आराम

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Accident – डंपर की चपेट में आने से स्कू टी चालक घायल

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर कहीं भी, कभी भी।*Yearly subscription for just ₹299 Limited Period Offer. HURRY UP! ख़बर सुनें ख़बर सुनें अखनूर। सौहाल रोड पर...

Diesel Petrol Price Today 1 March 2021 Know Rates In Gorakhpur – Petrol Diesel Price: गोरखपुर में पेट्रोल-डीजल के दाम में आई कमी, जानिए...

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर कहीं भी, कभी भी।*Yearly subscription for just ₹299 Limited Period Offer. HURRY UP! ख़बर सुनें ख़बर सुनें लगातार कई दिनों से...

The Hardship Of Patients Increased Due To The Strike Of The Upanal Employees – उपनल कर्मचारियों की हड़ताल से बढ़ी मरीजों की परेशानी

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर कहीं भी, कभी भी।*Yearly subscription for just ₹299 Limited Period Offer. HURRY UP! ख़बर सुनें ख़बर सुनें देहरादून। कर्मचारियों के हड़ताल...

Waiting Up To 2.5 Years For Heart Surgery In Lucknow – हार्ट सर्जरी के लिए एक से ढाई साल तक का इंतजार, विशेषज्ञों की...

हार्ट सर्जरी के लिए लखनऊ में लंबा इंतजार। पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर कहीं भी, कभी भी।*Yearly subscription for just ₹299 Limited Period Offer. HURRY UP! ख़बर...

Recent Comments