Wednesday, November 25, 2020
Home बिज़नेस कमाएं-बचाएं टर्म इंश्योरेंस चुनते समय याद रखेंगे ये 6 बातें, तो नहीं होगी...

टर्म इंश्योरेंस चुनते समय याद रखेंगे ये 6 बातें, तो नहीं होगी परेशानी – how to choose the right term insurance plan

टर्म इंश्योरेंस, किसी लाइफ़ इंश्योरेंस कंपनी द्वारा ऑफ़र किया जाने वाला ऐसा लाइफ़ इंश्योरेंस प्रोडक्ट है, जो पॉलिसी धारक को निश्चित समयावधि के लिए वित्तीय कवरेज ऑफ़र करता है। पॉलिसी अवधि में इंश्योर किए गए व्यक्ति की मृत्यु की स्थिति में कंपनी द्वारा हितधारक को डेथ बेनिफ़िट का भुगतान किया जाता है। आपकी अनुपस्थिति में, आपका परिवार न केवल वित्तीय रूप से आत्मनिर्भर रहता है, बल्कि छोटे बच्चे की उच्च शिक्षा जैसी आपकी भावी जरूरतों की पूर्ति भी कर सकता है।

टर्म इंश्योरेंस क्या है?

टर्म इंश्योरेंस एक तरह का लाइफ इंश्योरेंस है जो आपको एक निश्चित समय के लिए लाइफ कवर देता है। यह लाइफ इंश्योरेंस का सबसे सरल और शुद्ध रूप है। अगर आप इंश्योर्ड हैं और दुर्भाग्यवश आपको कुछ हो जाता है तो आपके नॉमिनीज को प्री-डिफाइंड डेथ बेनिफिट मिलेंगे। टर्म इश्योरेंस का मुख्य उद्देश्य अपने करीबियों को वित्तीय सुरक्षा मुहैया कराना है।

टर्म इंश्योरेंस की जरूरत किसे है?

इस सवाल का जवाब कई फैक्टरों पर निर्भर करता है। आपको टर्म इंश्योरेंस चाहिए या नहीं यह आपके परिवार के वित्तीय लक्ष्यों, आपकी वित्तीय निर्भरता और आपकी देनदारियों पर निर्भर करता है। साथ ही कुछ टर्म प्लान गंभीर बीमारी जैसे लाइफस्टाइल रिस्क में भी कवर देते हैं। इसलिए अगर आपको दिल की बीमारी या कैंसर जैसी जीवनशैली से जुड़ी बीमारी का खतरा है तो आपको टर्म प्लान के बारे में विचार करना चाहिए।

किस उम्र में लेना चाहिए टर्म इंश्योरेंस?

इसका सवाल का जवाब यही है कि जैसे ही आप पर किसी की जिम्मेदारी आती है आपको टर्म इंश्योरेंस प्लान ले लेना चाहिए। मान लीजिए अगर आप 30 साल के हैं और धूम्रपान नहीं करते हैं तो आप 60 साल की उम्र तक 1 करोड़ रुपये का टर्म इंश्योरेंस ले सकते हैं। इसके लिए आपको सालाना 7,400 रुपये देने होंगे। अगर आपकी उम्र 45 साल है और आप धूम्रपान नहीं करते हैं, तो आपका सालाना प्रीमियम 14,700 रुपये हो जाएगा। टर्म इंश्योरेंस में प्रीमियम की राशि में बदलाव नहीं होता है। यानी 30 साल या उससे अधिक उम्र के व्यक्ति के लिए अगले 30 साल के लिए सालाना किस्त वही रहेगी।

अपने लिए बेस्ट प्लान कैसे चुनें?

इस सवाल को जवाब समझने के लिए आपको काफी सोचविचार करना पड़ेगा। फाइनेंशियल प्लानर्स कहते हैं कि अगर आपकी उम्र 45 साल से कम है तो आपका लाइफ कवर आपकी सालाना आय का 20 गुना होना चाहिए। अगर आपकी उम्र 45 साल से अधिक है तो यह आपकी सालाना आय के 15 गुना होना चाहिए। फिर बात आती है प्रीमियम पेमेंट फ्रीक्वेंसी की। इन दिनों टर्म प्लान्स आपको मासिक, तिमाही या सालाना आधार पर भुगतान की सुविधा देते हैं। आप अपनी सुविधानुसार प्रीमियम का भुगतान कर सकते हैं।

राइडर क्या है?

टर्म इंश्योरेंस में एड ऑन फीचर्स राइडर कहलाते हैं। ये बेसिक टर्म प्ला न में वैल्यू एड करते हैं। ये प्लान का हिस्सा नहीं होते हैं और आपको अलग से इन्हें खरीदना पड़ता है। उदाहरण के लिए अगर आप गंभीर बीमारी के लिए राइडर खरीदते हैं तो कोई गंभीर बीमारी होने पर आप अपनी बीमा कंपनी की ओर से इंश्योरेंस पेआउट पाने के हकदार होंगे। रेग्युलर टर्म प्लान में बीमित व्यक्ति की मौत के बाद नॉमिनीज को ही पैसा मिलता है। लेकिन अगर आपने क्रिटिकल इलनेस राइडर खरीद रखा है तो इन पैसों का इस्तेमाल आपकी बीमारी के इलाज में खर्च किया जा सकता है।

टर्म इंश्योरेंस कैसे खरीद सकते हैं?

टर्म इंश्योरेंस के बारे में अच्छी तरह समझने के बाद बारी आती है उसे खरीदने की। तब शुरू होती है दुविधा। इसके ऑनलाइन खरीदें या ऑफलाइन? ध्यान रखें कि आप ऑनलाइन खरीदें या ऑफलाइन, इसे प्रोडक्ट में कोई फर्क नहीं पड़ता है। आप जो इंश्योरेंस पॉलिसी खरीदते हैं, वह समान होती है। ऑनलाइन खरीदना न केवल आसान है बल्कि इससे समय की भी बचत होती है। साथ ही ऑफलाइन की तुलना में ऑनलाइन प्रक्रिया ज्यादा पारदर्शी है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Congress government responsible for the present situation of Corona, did not make proper arrangements | कोरोना के वर्तमान हालात के लिए कांग्रेस सरकार जिम्मेदार,...

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐपअजमेर17 मिनट पहलेकॉपी लिंकपत्रकारों से बात करते भाजपा के देहात जिलाध्यक्ष...

लालू के वायरल ऑडियो पर सियासी संग्राम, CBI तक जा सकता है मामला

राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव के वायरल ऑडियो को लेकर बिहार में सियासी संग्राम छिड़ गया है। सत्ता पक्ष ने इसको लेकर जहां तमाम सवाल उठाते...

महिलाओं को सिखाए आत्मरक्षा के गुर

पिंक बेल्ट मिशन द्वारा बुधवार को अंतरराष्ट्रीय महिला हिंसा उन्मूलन दिवस पर 60 से 70 महिलाओं को आत्मरक्षा के गुर सिखाए गए। समाज में...

झारखंड में आतंक बना ओंडो मारा गया, आपसी प्रतिद्वंदिता में माओवादियों ने ही गोलियों से भून डाला

झारखंड में खूंटी के सोयको थाना क्षेत्र में आतंक बना भाकपा माओवादी सदस्य हरि सिंह मुंडा उर्फ ओंडो मारा गया। सोयको थाना क्षेत्र के...

Recent Comments